अब्दुल्ला परिवार से कश्मीरियों को सावधान रहने की जरूरत: अयूब मिर्जा

चीन की मदद से जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 बहाल करने के बयान को लेकर पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला को लेकर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है। पीओके के कार्यकर्ता अमजद अयूब मिर्जा ने अब्दुल्ला परिवार को दोमुंहा सांप बताते हुए कश्मीरियों को उनसे सावधान रहने की सलाह दी।

एक वीडियो संदेश में मिर्जा ने कहा, शेख अब्दुल्ला, फारूख अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला गद्दार हैं। उन्होंने कभी कश्मीरियों की चिंता नहीं की। उन्हें बस अपनी चिंता रही। शेख अब्दुल्ला ने कश्मीरियों को धोखा दिया। फारूक और उमर ने भी यही किया। कितनी बार उन्होंने जम्मू-कश्मीर विधानसभा में पीओके के खिलाफ प्रस्ताव पारित कराया। एक्ट 74, शेड्यूल 4 और गिलगिट-बाल्टिस्तान में आतंकवाद रोधी कानून? जब इलाके में इन्फ्रास्ट्रक्चर को नुकसान पहुंचाया गया, जंगल उजाड़े गए, पहाड़ों में अवैध खनन हुआ, तब ये लोग कहां थे? उन्होंने कभी आवाज नहीं उठाई, क्योंकि अगर वे ऐसा करते तो उनके वोट बैंक पर असर पड़ता।

मिर्जा ने अब्दुल्ला परिवार पर सवाल उठाते हुए कहा, विधानसभा में भेजे जाने के बावजूद इन लोगों ने कश्मीर के लिए कुछ नहीं किया और अब अनुच्छेद 370 हटाने पर केंद्र सरकार पर सवाल उठा रहे हो। राज्य में भौगोलिक बदलाव के आप लोग जिम्मेदार हो। आपके राज में लाखों हिंदुओं को विस्थापित किया गया और आप परिवार के साथ लंदन में थे।
… तो हमें देशद्रोहियों की जरूरत नहीं
मिर्जा ने कहा, अगर हमारे पास फारूक, उमर और महबूबा मुफ्ती जैसे लोग हों, तो देशद्रोहियों की जरूरत नहीं। कश्मीरियों को ऐसे लोगों से सावधान रहना होगा। ऐसे लोग अपने और परिवार के बारे में सोचते हैं। कश्मीर जल रहा था तो इन्होंने अपने बेटे बेटियों को विदेश पढ़ने भेजा। ये कश्मीर या भारत के दोस्त नहीं हैं।