कलयुगी मां ने अपने बेटे को उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश के जिला सोलन के नालागढ़ के तहत निक्कुवाल में कलयुगी मां ने प्रेमी संग मिलकर अपने बेटे को मौत के घाट उतार दिया। दरअसल नौ साल के बेटे ने मां को प्रेमी संग आपत्तिजनक हालत में देख लिया था, जिसके चलते मां ने अपने ही बेटे की गला घोंट कर हत्या कर दी। बच्चे का शव मिलने के बाद से जांच में जुटी नालागढ़ पुलिस ने इस मामले में भादंसं की धारा 302, 201, 120बी के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि निक्कुवाल गांव में बीते बुधवार की सुबह एक बच्चे का शव पुलिस ने संदिग्ध हालातों में बरामद किया था। पुलिस को शुरुआत से ही इसमें हत्या का अंदेशा था, जिसके आधार पर गहन पड़ताल के बाद इस गुत्थी नालागढ़ पुलिस ने सुलझा लिया।
संदीप की लाश खेतों में पड़ी मिली
जानकारी के मुताबिक पुलिस थाना में रामसरा निवासी जिला रामपुर उत्तर प्रदेश ने बयान दर्ज करवाया था कि 14 सिंतबर को उसका नौ वर्षीय बेटा संदीप उर्फ सन्नी सुबह बुआ के घर चला गया। जब 15 सिंतबर शाम तक संदीप घर नहीं लौटा तो रामसरा बुआ अतरकली के घर पता करने चला गया। वहां जाकर पता चला कि संदीप 14 सिंतबर को ही वहां से घर के लिए निकल गया था। इस पर रामसरा ने स्थानीय लोगों संग बेटे की तलाश शुरू की और 16 सितंबर की सुबह संदीप की लाश घर के बगल में खेतों में पड़ी मिली। उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने इस दौरान आकाश इंस्टीच्यूट के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला गया जिसमें अशोक उर्फ गवर्नर उसके घर की तरफ आता हुआ दिखाई दिया, जबकि थोड़ी देर बाद संदीप उर्फ सन्नी भी घर को आता हुआ दिखा।

लेकिन उसके बाद संदीप इसी रास्ते से बाहर जाते हुए दिखाई नहीं दिया। पुलिस ने जब अशोक से पुछताछ की तो उसने सच उगला और बताया कि 14 सितंबर को संदीप ने उसे उसकी मां के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। इससे घबरा कर अशोक व संदीपी की मां ने कमरे में ही मिलकर संदीप को गला घोंट कर मार दिया था । इसके बाद संदीप की लाश को मक्की के खेत में फेंक दिया। एसपी बददी रोहित मालपानी ने पुष्टि क रते हुए बताया कि नालागढ़ पुलिस ने नौ बर्ष के बच्चे की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है, इस मामले में शुक्रवार को मृतक की मां और एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है