जम्मू: पूर्व मंत्री चौधरी लाल सिंह के ठिकानो पर सीबीआई ने मारे छापे

जम्मू नगर निगम कार्यालय में बीते दिनों छापे के दौरान जब्त किए गए रिकॉर्ड की जांच के बाद मंगलवार को सीबीआई ने कई आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इसमें आरबी एजुकेशन ट्रस्ट, ट्रस्ट के अध्यक्ष, कठुआ के पूर्व डीसी, पूर्व तहसीलदार, पूर्व नायब तहसीलदार भी शामिल हैं।

इस मामले में अब सीबीआई कुल 9 जगहों पर छापे मारकर आरोपियों की तलाश कर रही है। आरबी शिक्षण संस्थान और ट्रस्ट के अध्यक्ष के आवास समेत जम्मू के तीन और कठुआ के छह जगहों पर छापेमारी चल रही है।

मालूम हो कि चौधरी लाल सिंह द्वारा चलाए जा रहे ट्रस्ट द्वारा भूमि कब्जाने और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए सीबीआई ने 25 जून को एक प्रारंभिक जांच (प्रीलिमिनरी इंक्वायरी) दर्ज की थी। लाल सिंह ने कठुआ के रसाना की आठ वर्षीय मासूम के साथ हुए दुष्कर्म और हत्या के बाद भाजपा छोड़ दी थी।
वन भूमि की बिक्री और खरीद की अनुमति देने में कठुआ जिला के राजस्व और वन अधिकारियों द्वारा अवैध संतुष्टि और अवैध विचार के आरोपों की जांच के लिए कठुआ के आर बी एजुकेशन ट्रस्ट और अज्ञात लोक सेवकों के खिलाफ पीई दर्ज की गई है।

पीई के अनुसार, यह आरोप लगाया गया है कि इस तरह के झूठे प्रमाण पत्र जो कि जेके एग्रेरियन रिफॉर्म्स एक्ट के तहत छूट वाली श्रेणी में आते हैं, शैक्षिक ट्रस्ट द्वारा इसकी खरीद में इस्तेमाल किए गए थे।

प्रारंभिक जांच में कहा गया है कि इस तरह के कथित गैरकानूनी कामों का एक लाभार्थी ट्रस्ट, जम्मू और कश्मीर कृषि सुधार अधिनियम, 1976 के तहत निर्धारित सीमा के व्यापक उल्लंघन में जमीन के बड़े हिस्से के कब्जे में है।

 

यहां बह पढ़ें
विश्व की सबसे लंबी और आधुनिक सुरंग बनकर तैयार, उद्घाटन तैयारियां जोरो पर