जम्मू कश्मीर : आतंकियों ने चर्चित वकील और सामाजिक कार्यकर्ता बाबर कादरी की घर से बुलाकर की हत्या

घाटी में बीडीसी अध्यक्ष की हत्या के अगले ही दिन वीरवार को आतंकियों ने चर्चित वकील और सामाजिक कार्यकर्ता बाबर कादरी की घर से बुलाकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आतंकी भाग निकले। इसके बाद पूरे इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया, लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा।
बताते हैं कि बाबर वीरवार की शाम हवाल स्थित अपने घर पर मौजूद थे। इस दौरान पहुंचे आतंकियों ने उन्हें बाहर बुलाया। इसके बाद नजदीक से गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल बाबर को पास के स्किम्स अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत लाया घोषित कर दिया।
बाबर जाने-माने चेहरे थे जो अक्सर कश्मीर संबंधित टीवी की परिचर्चाओं में शामिल होते थे। इतना ही नहीं कुछ वर्ष पहले पाकिस्तान से जारी ब्लॉग में बाबर समेत कई लोगों को धमकियां दी गईं थीं। ब्लॉग में नाम आने के बाद बाबर पर हमले की कोशिश भी की गई थी। उस समय पारिवारिक सूत्रों ने बताया था कि बाबर की कार को पिस्टल लिए कुछ लोगों ने हवाल के पास रोका था। जब उन्होंने गाड़ी का दरवाजा खोला तो पाया कि कार में बाबर नहीं हैं। इसके बाद वे लौट गए थे।
पहले से ट्वीट कर खतरे के प्रति किया था आगाह
बाबर ने 21 सितंबर को एक ट्वीट में लिखा कि मैं पुलिस और प्रशासन से गुहार लगाता हूं कि वे शाह नजीर के खिलाफ  एफ आईआर दर्ज करें जिसने दुष्प्रचार किया है कि मैं एजेंसियों के लिए काम करता हूं। यह बयान बेबुनियाद है जो मेरी जिंदगी के लिए खतरा बन सकता है। इस ट्वीट में बाबर ने जोनल पुलिस हेडक्वार्टर जम्मू को भी टैग किया गया था।