हिमाचल भाजपा में अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने अपनी टीम के प्रभारियों की नियुक्ति

हिमाचल भाजपा में अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने अपनी टीम के प्रभारियों की नियुक्ति की है। अविनाश राय खन्ना को हिमाचल भाजपा के प्रभारी के रूप में तैनाती दी गई है, तो संजय टंडन को सहप्रभारी बनाया गया है। अहम बात यह है कि ये नियुक्तियां ऐसे समय में की गई हैं, जब भाजपा के भीतर प्रदेश में खलबली मची हुई है। यहां धवाला की ज्वाला शांत नहीं हो रही, वहीं सरकार में मंत्रियों के विवाद भी उठे हुए हैं। ऐसे में सभी नेता राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुखातिब होने को आतुर हैं, जिसके चलते यहां नए प्रभारियों की तैनाती कर दी गई है। भाजपा के पूर्व प्रभारी मंगल पांडे अब हिमाचल को समय नहीं दे पा रहे थे।
बिहार में उन्हें पिछली सरकार में ही स्वास्थ्य मंत्री बना दिया गया था, जिसके बाद से उन्होंने हिमाचल का रुख नहीं किया। ऐसे में यहां संगठन में खलबली मची हुई है, मगर प्रभारी ने इसकी कोई सुध नहीं ली। अब क्योंकि मामला भी गंभीर था और प्रभारी भी समय नहीं दे पा रहे थे, तो ऐसे में नड्डा ने अपनी नई टीम के दो लोगों को हिमाचल की जिम्मेदारी सौंपी है। तय है कि नड्डा की टीम में इनकी अच्छी पकड़ रही होगी, तभी इन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपनी होम स्टेट में तैनाती दी।
इनके सामने संगठन के भीतर मची ज्वाला को शांत करने की बड़ी चुनौती है। खुद धवाला राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलने की तैयारी में हैं, जिन्होंने पहले ही कहा था कि वह दीपावली के बाद जाएंगे, लेकिन अब वह अपनी बात यहां लगाए गए प्रभारियों से करेंगे। दूसरी तरफ सरकार के सूरत-ए-हाल को समझना और यहां मंत्रियों को लेकर उठे विवादों को हल करना भी प्रभारियों के लिए चुनौती होगा। पिछले दिनों सरकार के एक मंत्री पर आरोप लगे हैं, जिसने दिल्ली में दूसरे मंत्री के खिलाफ बोला। इसके बाद यहां मंत्रिमंडल का विस्तार भी हुआ और अभी भी कई तरह की अटकलें चल रही हैं। इन हालातों में सत्ता और संगठन के सामने जो चुनौतियां हैं, वे नए प्रभारी के सामने भी रहेंगी। इससे वह किस तरह से पार पाएंगे, यह देखना होगा।
अविनाश राय खन्ना, जो हिमाचल के प्रभारी हैं, वह भाजपा के सांसद भी हैं और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी। राजनीतिक क्षेत्र का लंबा अनुभव रखते हैं और होशियारपुर के रहने वाले हैं। इससे पहले वह जम्मू-कश्मीर और राजस्थान राज्यों के इंचार्ज भी रह चुके हैं।
संजय टंडन, जिन्हें सहप्रभारी बनाया गया है, चंडीगढ़ के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष रह चुके हैं। पूर्व राज्यपाल के पुत्र हैं और जनसंघ से जुड़े परिवार से ताल्लुख रखते हैं। इनसे पहले मंगल पांडे प्रभारी थे, जिनसे पहले श्रीकांत शर्मा और कलराज मिश्र हिमाचल भाजपा की कमान संभाल चुके हैं।