प्रदेश की सीमाओं को खोलना जल्दबाजी, ये फैसला प्रदेश के लिए घातक सिद्ध होगा: कुलदीप राठौर

हिमाचल प्रदेश की सीमाओं को खोलने के फैसले को जल्दबाजी में केंद्र सरकार के दबाव में लिया गया है, जो एक गलत कदम है। यह आरोप प्रदेश काग्रेंस ने लगाया है। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने कहा प्रदेश सरकार द्वारा कोविड-19 के चलते बाहरी लोगों के लिए प्रदेश की सीमाओं को खोलने के फैसले को जल्दबाजी में केंद्र के दबाव में लिया गया है।
प्रदेश में दिंनो दिन कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है, इसलिए यह फैसला प्रदेश के लिए घातक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के होटलियर भी यही चाहते हैं कि पर्यटकों की पूरी कोविड स्वास्थ्य जांच के बाद ही यहां आने दिया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश की 70 प्रतिशत आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है, जहां कोविड जांच या अन्य स्वास्थ्य सेवाओं का अभाव है। ऐसे में अगर यह संक्रमण ग्रामीण क्षेत्रों में फैलता है, तो इसकी जिम्मेदारी किस की होगी।

 

यहां भी पढें
हिमाचल: राज्य सरकार इंटरस्टेट बस सेवा शुरू करने की तैयारी में
सदन ने पूर्व विधायक रामनाथ शर्मा के निधन पर शोक जताया