हिमाचल: अपना रोजगार करें शुरू, सब्सिडी के लिए दफ्तर या बैंक में नहीं जाना पड़ेगा

हिमाचल प्रदेश में अब स्वावलंबन योजना में रोजगार प्राप्त करने वाले युवाओं और युवतियों को सब्सिडी के लिए दफ्तर या बैंक में नहीं जाना पड़ेगा।

हिमाचल प्रदेश में अब स्वावलंबन योजना में रोजगार प्राप्त करने वाले युवाओं और युवतियों को सब्सिडी के लिए दफ्तर या बैंक में नहीं जाना पड़ेगा। जल्द ही प्रदेश के युवाओं को ऑनलाइन सब्सिडी की सुविधा दी जाएगी। इसके लिए उद्योग विभाग ने शनिवार को अपना ऑनलाइन पोर्टल लांच कर दिया है। एक महीने के अंदर ही सब्सिडी मिल जाएगी।

शनिवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उद्योग विभाग के सभी जिलों के महाप्रबंधकों और उपायुक्तों के साथ ऑनलाइन बैठक की। इसमें सीएम ने उद्योग विभाग के ऑनलाईन पोर्टल को लांच किया। इससे स्वावलंबन योजना के तहत आ रही समस्याओं और ज्यादा युवाओं को इस योजना का लाभ देने के बारे में चर्चा की गई। वहीं लाभार्थियों से भी बात की गई।
पांच से सात दिनों में विभाग करेगा कार्रवाई

ऑनलाइन ही सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी
अब स्वावलंबन योजना के तहत कोई भी व्यक्ति अपना काम शुरू करने के लिए लोन लेता है तो उसे ऑनलाइन ही सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी। ऑनलाइल आवेदन के पांच से सात दिनों में विभाग उस पर कार्रवाई करेगा।

कॉमर्शियल वाहन के लिए मिलेगा 10 लाख का लोन
मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का दायरा अब बढ़ा दिया गया है। इसमें अब प्रदेश के बेरोजगार युवा वर्ग टैक्सी, फूड वैन ई-रिक्शा, थ्री व्हीलर और कॉमर्शियल वाहन के लिए 10 लाख तक का लोन मिलेगा। इसमें युवाओं को 25 फीसदी, जबकि युवतियों को 30 प्रतिशत की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

राजेश कुमार महाप्रबंधक उद्योग विभाग कांगड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में लोन लेने वाले युवाओं को अब 60 फीसदी राशि प्रोजेक्ट के निर्माण से पहले ही उनके खाते में डाल दी जाएगी।