हिमाचल : किन्नौर जिला का अंतिम गांव फोन और वाईफाई सुविधा से जुड़ा

रिकॉनगपिओ: हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में चीनी कब्जे वाले तिब्बत बॉर्डर पर किन्नौर (Kinnaur) जिला के अंतिम ग्राम पंचायत चारंग फोन और वाई सुविधा से जुड़ गई है. आजादी के बाद पहली बार वाईफाई (Wifi) सुविधा से जुड़ गया है. वाईफाई सुविधा से जुडने के बाद यहां के ग्रामीणों, सीमाओं के के रक्षा कर रहे सेना और कोरोना काल के दौरान देश के अन्य नौनिहाल की तरह सीमांत क्षेत्र के नौनिहाल भी अब ऑनलाईन शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे.
गौर रहे पूरे दुनिया में कोरोना महामारी शुरू होने से स्कूल के बच्चों को ऑनलाईन शिक्षा दी जा रही थी, लेकिन सीमांत इलाकों में संचार सुविधा न होने से यहां के नौनिहाल ऑनलाईन शिक्षा से पूरी तरह से वंचित थे, लेकिन अब जिला के अंतिम ग्राम पंचायत चारंग भी आजादी के बाद वाईफाई सुविधा से जड़ने से इस क्षेत्र के लोगों को लाभ मिलेगा.
25 किमी दूर जाना पड़ता था फोन करने
यहां पर किसी प्रकार की संचार सुविधा नहीं थी तो ग्रामीणें को फोन पर सूचना देने के लिए गांव से करीब 25 किलो मीटर बाहर आना पडता था. इस बारे में ग्राम पंचायत प्रधान पूर्ण सिंह नेगी ने मीडिया से रूबरू होते हुए बताया कि चीन तिब्बत सीमा के साथ लगते ग्राम पंचायत में संचार सुविधा न हाने से खासी परेशानियों का सामना करना पडता था, लेकिन आज आजादी के बाद पहली बार ग्राम पंचायत चारंग में वाईफाई सुविधा प्राप्त हो चुका है. वाईफाई सुविधा प्राप्त होने से गांव को नौनिहालों व ग्रामीणों को तो लाभ होगा. साथ ही चीन-तिब्बत सीमाओं की रक्षा कर रहे देश के सेनाओं को भी सुविधा मिलेगी.