हिमाचल : स्कूलों और कॉलेजों में फेयरवेल, लंच और रिटायरमेंट पार्टियों पर पूरी तरह से रोक

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिमाचल प्रदेश के स्कूलों और कॉलेजों में फेयरवेल, लंच और रिटायरमेंट पार्टियों पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। उच्च शिक्षा निदेशालय ने इस बाबत जिला अधिकारियों और प्रिंसिपलों को निर्देश जारी कर दिए। शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने कहा कि इन कार्यक्रमों से कोविड 19 से बचाव के नियमों का उल्लंघन हो रहा है। ऐसे में विद्यार्थियों और शिक्षकों के हित में ऐसे कार्यक्रम शिक्षण संस्थानों में आयोजित नहीं किए जाएंगे। गौर हो कि स्कूलों-कॉलेजों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद प्रदेश सरकार ने 15 दिन के लिए 25 नवंबर तक शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया है।
26 नवंबर से शिक्षण संस्थान दोबारा खुलेंगे। ऐसे में एहतियात बरतते हुए उच्च शिक्षा निदेशालय ने शिक्षण संस्थानों में फेयरवेल, लंच और रिटायरमेंट पार्टियों के आयोजनों पर रोक लगाने का फैसला लिया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार बीते दिनों प्रदेश के कुछ स्कूलों में इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन हुआ है, जहां कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए तय किए गए एसओपी की अनदेखी हुई। इस कारण कई जगह कोरोना संक्रमण के मामले भी बढ़े। भविष्य में ऐसा न हो, इसके लिए कार्यक्रमों के आयोजनों पर रोक लगा दी गई है। सभी शिक्षकों को स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग की एसओपी का सख्ती से पालन करने के निर्देश भी दिए गए हैं।