हिमाचल: करीब 11 लाख एपीएल कार्ड धारक परिवारों को एक और झटका

हिमाचल सरकार ने दिवाली से पहले नवंबर की शुरुआत में करीब 11 लाख एपीएल कार्ड धारक परिवारों को एक और झटका दे दिया है। डिपुओं में मिलने वाला सरसों का तेल बुधवार से छह रुपये प्रति लीटर महंगा मिलेगा। यही नहीं, माश, मलका मसूर और चना दाल के दाम भी पांच-पांच रुपये प्रतिकिलो बढ़ा दिए हैं। कोरोना काल और त्योहारी सीजन में उपभोक्ताओं पर महंगाई की मार पड़ी है। राशन डिपो संचालकों को मंगलवार को ही खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से राशन के दामों की नई सूची जारी हुई है।
सस्ते राशन के डिपुओं में अक्तूबर में 97 रुपये प्रति लीटर मिलने वाला सरसों का तेल नवंबर से 103 रुपये में मिलेगा। मलका-मसूर की दाल 55 से 60 रुपये प्रति किलोग्राम, दाल चना 45 से 50 रुपये, जबकि माश की दाल के दाम 55 से बढ़ाकर 60 रुपये प्रति किलो कर दिए गए हैं। हालांकि, बीपीएल परिवारों को पुराने दाम पर ही राशन मिलेगा। बता दें कि प्रदेश सरकार ने पहले टैक्स देने वाले उपभोक्ताओं को सस्ते राशन से बाहर कर दिया और अब राशन के दाम बढ़ाकर निम्न मध्यवर्गीय परिवारों को बड़ा झटका दिया है। उधर, खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने कहा कि डिपुओं में सरसों तेल और दालों के दामों में वृद्धि मार्केट रेट के हिसाब से हुई है।