हिमाचल: राजधानी शिमला में प्रशासन ने पटाखे बेचने और जलाने में लिए कुछ चुनिंदा जगह की चिन्हित

File Photo

शिमला: बढ़ते वायु प्रदूषण (Air Pollution) को रोकने के लिए नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल (NGT) ने देश के कई बड़े शहरों में पटाखों की खरीद-बिक्री पर पूरी तरह से प्रतिबंध (Ban On Sale Of Crackers) लगा दिया है. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में प्रशासन ने पटाखे बेचने और जलाने में लिए कुछ चुनिंदा जगह चिन्हित की है. प्रशासन ने शिमला के लोअर बाजार और छोटी-बड़ी दुकानों में पटाखे बेचने पर रोक लगा दी है. लेकिन दिवाली का त्योहार मनाने वालों के लिए पटाखे की खरीदारी और बेचने के लिए 12 जगह चिन्हित की हैं जहां लोग स्टॉल लगाकर पटाखे खरीद और बेच (Crackers Sale) सकते हैं.

 शहर में 12 जगह चिन्हित
दरअसल शिमला शहर में जिन जगहों पर पटाखे बेचने के लिए जगह चयन की गई है, उनमें आइस स्केटिंग क्लब, बालूगंज मंदिर, संजौली, नाभा पीडब्लूडी पार्किंग, खलीणी बाइपास, समरहिल ग्राउंड, रेलवे स्टेशन के पास समेत कुल 12 जगह चिन्हित की हैं जहां पटाखे खरीदे जा सकते हैं. जिला प्रशासन ने त्योहारों को लेकर पूरी तैयारियां की हैं. वहीं शहर के कारोबारियों पर सख्त नियम भी लागू किए हैं. बता दें कि हर साल दिवाली के त्योहार पर शिमला में हर दुकान के बाहर पटाखे खरीदे और बेचे जाते हैं. इससे अक्सर जहां आग लगने का खतरा बढ़ जाता है. वहीं इससे आगजनी की कई घटनाएं भी होती हैं. इसे ध्यान में रखते हुए इस बार जिला प्रशासन ने एहतियात बरतते हुए दिवाली के कई दिनों पहले दुकानों के बाहर पटाखे बेचने पर रोक लगा दी है.