हिमाचल: 500 छात्र-छात्राएं अपनी पॉलिटेक्निक की पढ़ाई कर सकेंगे पूरी

हिमाचल के 500 छात्र-छात्राएं अपनी पॉलिटेक्निक की पढ़ाई पूरी कर सकेंगे। हिमाचल प्रदेश तकनीकी शिक्षा बोर्ड ने 2007 और 2012 पाठ्यक्रमों के तहत डिप्लोमा कर रहे अभ्यर्थियों को यह मौका दिया है।  अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए अभ्यर्थियों को अक्तूबर और नवंबर माह में अन्य अभ्यर्थियों के साथ आवेदन करना होगा। आवेदन करने के बाद ही उन्हें मौका मिलेगा। जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश तकनीकी शिक्षा बोर्ड धर्मशाला की बीते दिनों हुई बैठक में बहुतकनीकी संस्थानों से पाठ्यक्रम एन-2007 और एन-2012 में डिप्लोमा कर रहे उन छात्रों को अपनी पढ़ाई पूरी करने का मौका दिया है, जिन्होंने किसी कारणवश अपनी पढ़ाई को अधूरी छोड़ा है।

इस दौरान केवल वही अभ्यर्थी आवेदन कर सकेंगे, जो कम से कम चार विषयों में रीअपीयर रहे हैं। ऐसे छात्र अक्तूबर-नवंबर माह में तकनीकी शिक्षा बोर्ड की ओर से प्रस्तावित फीस जमा करवाने के शेड्यूल के दौरान अपनी फीस जमा करवा सकेंगे। इन छात्रों को शैक्षणिक सत्र 2020-21 के अन्य अभ्यर्थियों के साथ परीक्षा देने का मौका दिया जाएगा। हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की मानें तो हर पांच साल बाद पॉलिटेक्निकल का सिलेबस बदला जाता है। मौजूदा समय में एन-2017 के तहत पाठ्यक्रम पढ़ाया जा रहा है। वहीं बोर्ड ने एन-2007 और एन-2012 में डिप्लोमा करने वाले छात्रों को अपनी पढ़ाई पूूरी करने का मौका दिया है।
हिमाचल प्रदेश तकनीकी शिक्षा बोर्ड धर्मशाला की अध्यक्ष कमलेश कुमार पंत की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिए निर्णय से सूबे के 500 छात्र लाभान्वित होंगे। पाठ्यक्रम एन-2007 और एन-2012 के तहत बीच में पढ़ाई छोड़ने वाले करीब 500 छात्र हैं, जो बोर्ड की ओर से दिए गए गोल्डन चांस का फायदा उठा सकते हैं।

 

यहां भी पढ़े
हिमाचल कोरोना अपडेट : प्रदेश में पांच की गई जान, 364 और लोग वायरस की चपेट में
सेना भर्ती की लिखित परीक्षा में पास हुए युवाओं को कोरोना टेस्ट रिपोर्ट लानी होगी, तभी भेजा जाएगा ट्रेनिंग सेंटर