धवाला प्रकरण, यह भाजपा के घर का मामला है, मिल बैठकर ही सुलझा लिया जाएगा: मुख्यमंत्री

हिमाचल मुख्यमंत्री ने कहा है कि स्कूलों द्वारा कोरोना काल के दौरान की फीस विभिन्न फंड्स के साथ लेने का मामला राज्य सरकार के लिए काफी पेचीदा बना हुआ है। टाहलीवाल में पत्रकारों से बातचीत में सीएम ने कहा कि अदालत के निर्णय के चलते राज्य के निजी स्कूलों द्वारा फीस ली जा रही है। प्रदेश सरकार इस पर नजर बनाए हुए है तथा इस पर आगे चर्चा करेंगे। धवाला प्रकरण पर सीएम ने कोई भी टिप्पणी करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि यह भाजपा के घर का मामला है तथा मिल बैठकर ही सुलझा लिया जाएगा। सीएम ने कोरोना के दृष्टिगत प्रदेश की स्थिति को संतोषजनक करार दिया।
उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेताओं को प्रदेश में कोरोना के बेकाबू होने बारे टिप्पणी करने से पहले पंजाब सहित उन राज्यों पर निगाह डालनी चाहिए, यहां पर कांग्रेस की सरकारें हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में यहां 22 हजार के करीब लोग कोरोना पॉजिटिव हुए हैं, वहीं पंजाब में यह आंकड़ा 1.40 लाख जा पहुंचा है। हिमाचल में 300 लोगों को कोरोना के चलते अपनी जान गंवानी पड़ी, जो कि दुखदायी है, लेकिन पंजाब में यह आंकड़ा चार हजार के पार है।