धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम जल्द खिलाड़ियों के लिए खोला जाएगा, टूरिस्ट ले सकेंगे आनंद

धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में धौलाधार की रेंज में बने धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम (Dharamshala Cricket Stadium) जल्द ही टूरिस्ट और खिलाड़ियों के लिए खोला जाएगा. बैठक में एकमत से फ़ैसला लिया गया कि बीसीसीआई (BCCI), प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर जारी एसओपी को समावेशी करते हुए एचपीसीए और सम्बंधित ज़िला क्रिकेट संघों के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) का प्रारूप खेल गतिविधियों को प्राम्भ करने से पहले तैयार किया जाएगा. इस संबंध में एक वर्चुअल बैठक की गई है.
सर्वसम्मति से चार सदस्यीय समिति का गठन
एसओपी तैयार करने के लिए सर्वसम्मति से चार सदस्यीय समिति का गठन किया गया है. इस समिति के संयोजक अमिताभ शर्मा, सह- संयोजक डॉ आरएस राणा के इलावा सदस्यों के रूप में डॉ किंजल सुरतवाला व डॉ सुरेश राठौर होंगे और यह समिति एक महीने के अंदर मानक संचालन प्रक्रिया के प्रारूप को संघ के सचिव को आगामी कार्यवाही हेतु प्रेषित करेगा.
अनलॉक के दिशानिर्देश अनुसार ही लागू किया जाएगा
सुमित ने बताया कि एचपीसीए का एसओपी प्रदेश सरकार व स्थानीय प्रशासन के आगामी अनलॉक के दिशानिर्देश अनुसार ही लागू किया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस वर्ष के स्पोर्ट्स कैलेंडर की शेष समयावधि के लिए क्रिकेट गतिविधि को भी प्रशासन व प्रदेश सरकार के दिशानिर्देशों के पश्चात ही शुरू करने पर भी सहमति बनी है. उन्होंने बताया कि क्रिकेट गतिविधि के लिए समय और प्रक्रिया तय हो इसके लिए भी चार सदस्यीय समिति का गठन किया गया है. सुमित ने बताया कि संघ द्वारा निर्मित एसओपी क्रिकेट स्टेडियम और मैदान, इनडोर,अभ्यास क्षेत्रों, विभिन्न सब-सेंटर्स और क्रिकेट अकादमियों के अलावा संघ के खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ, ग्राउंडमैन, ऑफिस स्टाफ और विज़िटर्स पर लागू होगा.
12 मार्च से बंद है स्टेडियम
बता दें कि है कि 12 मार्च को धर्मशाला में आयोजित भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच के पश्चात से ही प्रदेश में स्थित एचपीसीए के सभी स्टेडियम कोविड-19 के कारण अभी तक बंद पड़े हैं.