DC vs KXIP: एक गलती ने पंजाब से छीनी जीत, मैन ऑफ द मैच के असली हकदार अंपायर हैं: सहवाग

रविवार को आईपीएल (IPL 2020) के एक बेहद रोमांचक मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) को पंजाब किंग्स इलेवन (Punjab kings Xi) के खिलाफ जीत मिल गई. निर्धारत 20-20 ओवर में मैच टाई रहा. इसके बाद मैच का फैसला सुपर ओवर में हुआ. जहां दिल्ली की टीम ने बाज़ी मार ली. लेकिन दिल्ली की जीत पर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. क्रिकेट के कई पूर्व दिग्गज और फैंस आरोप लगा रहे हैं कि अंपायर की एक गलती (Umpiring Error) के चलते पंजाब की टीम ये मैच हार गई. दरअसल अंपायर ने पंजाब के एक रन को शॉर्ट रन करार दिया. लेकिन स्लो मोशन रिप्ले में साफ-साफ देखा जा सकता है कि ये रन शॉर्ट नहीं था.

अंपायर से कहां और कैसे हुई चूक?
पंजाब के सामने जीत के लिए 157 रनों का लक्ष्य था. आखिरी 10 गेंदों पर पंजाब को जीत के लिए 21 रन बनाने थे. जिस अंदाज में मयंक अग्रवाल बैटिंग कर रहे थे पंजाब की जीत तय लग रही थी. 19 वें ओवर में गेंदबाजी के लिए कैगिसो रबाडा आए. अग्रवाल ने उनकी दूसरी गेंद पर झन्नाटेदार चौका जड़ दिया. रबाडा की अगले गेंद यॉर्कर थी, जिसे मिड-ऑन की तरफ खेल कर अग्रावाल ने दो रन रन पूरे किए. दूसरे छोर से क्रिस जॉर्डन बैटिंग कर रहे थे. लेकिन अंपायर ने नितिन मेनन ने इसे शॉर्ट रन करार दिया. उन्होंने दूसरे अंपायर से बातचीत कर कहा कि जॉर्डन ने अपना पहला रन पूरा करते समय बल्ले को क्रीज के अंदर नहीं रखा. ऐसे में यहां पंजाब को सिर्फ 1 रन दिया गया. टिवी के स्लो मोशन रिप्ले में साफ-साफ देखा जा सकता है कि जॉर्डन का ये शॉर्ट रन नहीं था. उन्होंने बल्ले को सही तरीके से रखा था. लिहाजा एक रन की कमी से मैच टाई हो गया.

सहवाग का गुस्सा अंपायर की इस गलती पर वीरेंद्र सहवाग भड़क गए. सहवाग पंजाब के भी कोच रह चुके हैं. उन्होंने अंपायर के फैसले पर तंज कसते हुए कहा, ‘मैं मैन ऑफ द मैच के फैसले से खुश नहीं हूं. मैन ऑफ द मैच के असली हकदार अंपायर हैं. वो शॉर्ट रन नहीं था. इसी अंतर से पंजाब की टीम हार गई.’