कांग्रेस पार्टी द्वारा गांधी परिवार से ही बंधे रहकर आत्महत्या करने का निर्णय : शांता कुमार

File Photo
भाजपा नेता एवं हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी द्वारा गांधी परिवार से ही बंधे रहकर आत्महत्या करने का निर्णय मेरे लिए एक खुशखबरी भी है और दुख की खबर भी। उन्होंने कहा कि आज दूर-दूर तक न तो भाजपा का विकल्प है और न ही नरेेंद्र मोदी का।
एकमात्र कांग्रेस विकल्प की क्षमता रखती है, परंतु वह गांधी परिवार की गुलामी से बाहिर निकलेगी नहीं और आज की परिस्थिति में इतने बड़े देश में कोई भी दूसरा बड़ा दल पूरे भारत में नहीं बन सकता। शांता कुमार ने कहा कि विपक्ष के बिना लोकतंत्र स्वस्थ और सशक्त नहीं हो सकता।
लोकतंत्र के लिए पक्ष और विपक्ष दोनों आवश्यक हैं। उन्होंने कहा कि भारत अंग्रेजों की गुलामी से 70 वर्ष पहले आजाद हो गया, परंतु देश की सबसे पुरानी पार्टी अभी भी एक परिवार की गुलामी से आजाद नहीं हो सकी है।