पांवटा साहिब: वन विभाग टीम पर जानलेवा हमला, खनन रोकने गई थी टीम

पांवटा साहिब(सिरमौर): हिमाचल-उत्तराखंड की सीमा पर स्थित यमुना नदी में अवैध खनन रोकने पहुंची वन विभाग की टीम पर खनन माफिया ने जानलेवा हमला कर दिया। हमले में एक वन रक्षक और एक अन्य वन कर्मी लहूलुहान हो गए। दोनों का सिविल अस्पताल पांवटा साहिब में उपचार करवाया गया। करीब एक दर्जन ट्रैक्टर सवार हमलावर मौके से उत्तराखंड की तरफ भाग निकले। वन विभाग की तरफ से पुरुवाला थाने में शिकायत दर्ज करवा दी गई है।

जानकारी के अनुसार पांवटा वन मंडल के तहत भंगानी में राज्य सीमा पर यमुना नदी में अवैध खनन की शिकायतें मिल रही थी, जिसके बाद सुबह गश्त के दौरान यमुना बीट के वन रक्षक धनवीर सिंह, वन कर्मी किशन कुमार व अन्य वन कर्मियों ने खनन को आए ट्रैक्टर रोके तो लोगों ने टीम पर हमला कर दिया, जिसमें धनवीर सिंह को पत्थर मारकर बुरी तरह से लहूलुहान कर दिया और किशन कुमार भी जख्मी हुए हैं। डीएफओ पांवटा कुणाल अंग्रीश ने बताया कि पुरुवाला थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी है। सिविल अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. राजीव चौहान ने बताया कि वन रक्षक को दाईं आंख के पास छह टांके लगाने पड़े हैं। डीएसपी पांवटा सोमदत ने मामले की पुष्टि की है।