करतारपुर कॉरिडोर में ऑनलाइन आवेदन की अवधि घटनी चाहिए : कैप्टन अमरिंदर सिंह

File Photo

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 550वें प्रकाश पर्व समारोह के दौरान ऐतिहासिक श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए कई तरह के सुझाव रखे हैं। कैप्टन ने ऑनलाइन आवेदन करने संबंधी केंद्र सरकार की 30 दिनों की नोटिस अवधि में कटौती करने की मांग की। मुख्यमंत्री मंगलवार को केंद्र के अधिकारियों की एक टीम के साथ कॉरिडोर परियोजना की प्रगति का आकलन करने के लिए एक उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

कैप्टन ने केंद्रीय टीम से डेरा बाबा नानक में श्रद्धालुओं को ई-परमिट जारी करने की व्यवहारिकता और डेरा बाबा नानक में एक पासपोर्ट सेवा केंद्र स्थापित करने पर भी विचार करने को कहा। उन्होंने तीर्थयात्रियों पर 20 अमेरिकी डॉलर का शुल्क हटाने के लिए केंद्र से पाकिस्तान पर दबाब बनाने का भी अनुरोध किया। इस बीच मुख्यमंत्री ने आरपीओ चंडीगढ़ से कहा कि वह प्राथमिकता पर तीर्थयात्रियों को पासपोर्ट सेवा देने के लिए एक फास्ट-ट्रैक और आसान तंत्र सुनिश्चित करें।

उन्होंने विभाग को ऑनलाइन आवेदन दाखिल करने में श्रद्धालुओं की मदद करने के लिए राज्य भर में पासपोर्ट शिविरों का आयोजन तुरंत शुरू करने को भी कहा। तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए मुख्यमंत्री ने केंद्र से प्रति व्यक्ति 10,000 रुपये की भारतीय करेंसी ले जाने की अनुमति देने की मांग भी की। उन्होंने कहा कि केंद्र को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि साइट पर पाकिस्तान द्वारा पर्याप्त मनी एक्सचेंज बूथ स्थापित किए जाएं।